गौ सेवा से अर्थ,धर्म,काम और मोक्ष की प्राप्ति होती है । मनुष्य जीवन में की गई गौसेवा अगले भव को सुधार देती है और वर्तमान में वास्तु दोष दूर कर मान,प्रतिष्ठा के साथ-साथ अर्थ और वैभव प्रदान करती है । परिवार तथा घर में सुख-शान्ति के साथ ऐश्वर्य प्राप्त होता है ।

गौमाता और उसके द्वारा दिए जाने वाले गोमूत्र, गोबर से गौसेवा, मानवसेवा, भारत भूमि सेवा तथा जीवदया हो सकती है । गौशाला स्वावलम्बन हेतु देश में अभियान प्रारम्भ किया गया है । गौशाला तभी स्वावलम्बी होगी जब गाय का गोमूत्र और गोबर विक्रय होगा ।  इसी कड़ी में देश में केकेवीटी के अंतर्गत जीवदया, गौशाला,आर्गेनिक और हेल्थकेयर फाउंडेशन कार्य कर रही है । यदि आप भी इस गौसेवा के कार्य से जुड़ना चाहते है तो मेम्बर बनकर तन,मन,धन से गौसेवा का लाभ लीजिए । गौसेवा – जीवदया से आपका कल्याण सुनिश्चित है ।

Donate Online via Payumoney

Donate Now

Direct Donation

SBI-A\C NUMBER-31732457169, A/c Name-Kisan Kisani Vikas Trust, IFSC Code No–SBIN0030127, Branch University Campus, Indore

ICICI-A\C NUMBER-091601000658, A/c Name-Kisan Kisani Vikas Trust, IFSC -ICIC0000916, Branch Ratlamkothi, Indore

50% की छूट – किसान किसानी विकास ट्रस्ट को दिए गए दान पर इनकमटैक्स की धारा 80 जी के अंतर्गत 50 % छूट का प्रावधान है ।

जीवदया फाउंडेशन ऑफ़ इंडिया –  देश की सभी गौशालाओं को स्वावलम्बी बनाना है अतः प्रारम्भ में डोनेशन देकर   उनकी आवश्यकताओं की पूर्ति करने की हमारी सबकी जवाबदारी है , ताकि वे अधिक से अधिक गोमूत्र का कलेक्शन कर सकें। डोनेशन एकत्र किये गये गोमूत्र के आधार पर देते है ।

गौशाला फाउंडेशन ऑफ़ इंडिया – देश की सभी गौशालाऍ हमारी मेम्बर है। सभी गौशालाओं की एड्रेस,मोबाइल नंबर,ईमेल सहित लिस्ट तैयार हो रही है आप भी मदद करें ।  गौशालाओं को गोमूत्र तथा गोबर इकट्ठा करने के लिए प्रेरित कर इकट्ठा करवाना हम सभी की जिम्मेदारी है । गोमूत्र एकत्रित कर , स्टोर करने के लिए 500 – 500  लिटर के फ़ूड ग्रेड  HDPE टैंक गौशालाओं को डोनेट कीजिए ।मनुष्यों की दवाई हेतु गोमूत्र स्वस्थ्य देशी गायों का एकत्रित किया जाता है ।

आर्गेनिक फाउंडेशन ऑफ़ इंडिया गौशालाओं द्वारा एकत्रित किये गए गोमूत्र गोबर से फसल रक्षक , देशी तरल  खाद एवं गोबर खाद का निर्माण । किसानों को गोमूत्र और गोबर से बनाये गए फसल रक्षक और खाद के उपयोग की प्रेरणा देना हम सभी का धर्म है ।घरों के गार्डन,किचन गार्डन,कॉलोनी के गार्डन ,गमलों आदि में भी केमिकल फ़र्टिलाइज़र तथा पेस्टिसाइड के स्थान पर इसका उपयोग करें और और दूसरों को प्रेरित करें। कृषि उपयोग हेतु गाय तथा बैलों , दोनों का गोमूत्र एकत्रित किया जाता है ।

हेल्थकेयर फाउंडेशन ऑफ़ इंडिया देश में जितने भी आयुर्वेद,आयुष ,प्राकृतिक चिकित्सा तथा अन्य अल्टरनेटिव थैरेपी के डॉक्टर्स है उन्हें आयुर्वेदीय गोमूत्र चिकित्सा / पंचगव्य चिकित्सा से इलाज करने हेतु प्रोत्साहित करने में  हम सभी की हिस्सेदारी होनी चाहिए ।हमारे द्वारा इच्छुक डॉक्टर्स को ऑनलाइन ट्रेनिंग भी दी जा रही है  । हमारी भी जवाबदारी है कि हम स्वयं भी और दूसरों को भी ,सभी साध्य-असाध्य रोगों हेतु गोमूत्र चिकित्सा पद्धति से इलाज हेतु प्रेरित करें ।